फ्रांसीसी पत्रिका ने अश्वेत महिला सांसद को दास के रूप में दिखाया, बवाल हुआ तो मांगी माफी |

फ्रांसीसी पत्रिका ने अश्वेत महिला सांसद को दास के रूप में दिखाया,

बवाल हुआ तो मांगी माफी |

फ्रांसीसी पत्रिका ने अश्वेत महिला सांसद को दास के रूप में दिखाया, बवाल हुआ तो मांगी माफी | फ्रांस की पत्रिका ‘वेलर्स एक्चुअल्स’ने देश की एक ब्लैक महिला सांसद (Black Lawmaker) को दास (Slave) के रूप में दिखाया और बवाल खड़ा होने के बाद उनसे माफी मांग ली. फ्रांस की सरकार और विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने जमकर आलोचना की.

पेरिस. फ्रांस की पत्रिका ‘वेलर्स एक्चुअल्स’ने देश की एक ब्लैक महिला सांसद ओबोनो (Black Female Lawmaker Danielle Obono) को दास (Slave) के रूप में दिखाया

और बवाल खड़ा होने के बाद उनसे माफी मांग (Apology) ली.

इस विवादास्पद कृत्य के लिए फ्रांस की सरकार और विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने जमकर आलोचना की.

धुर वामपंथी पार्टी ‘डेफियंट फ्रांस’ की सांसद डेनियल ओबोनो ने व्यंग्यात्मक शैली में ट्वीट किया कि

आप अश्वेत फ्रांसीसी सांसद को दास की तरह दर्शाते हुए अब भी लिख सकते हैं.

 

यह चित्र ओबोनो को आहत करने के लिए नहीं बनाया: डिप्टी एडिटर

दक्षिणपंथी पाठकों के बीच लोकप्रिय पत्रिका ने अपने इस प्रकाशन के लिए माफी मांग ली है.

पत्रिका के डिप्टी एडिटर टेगडुअल डेनिस ने बीएफएम टेलीविजन से शनिवार को कहा कि

यह चित्र ओबोनो को आहत करने के लिए नहीं बनाया गया और

यह लोगों का ध्यान आकर्षित करने की चाल भी नहीं है.

लेकिन उन्होंने कहा कि मुझे इस बात का दुख है कि हम पर हमेशा नस्लवाद का आरोप लगता है.

दरअसल राजनीतिक रूप से हम गलत हैं.

 

रिपब्लिकन पार्टी के नेता एवं प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने ट्वीट किया कि इस घृणित प्रकाशन की साफ शब्दों में निंदा की जानी चाहिए.

नस्लवाद के खिलाफ लड़ाई हमेशा हमारे मतभेदों को उजागर करेगी.

फ्रांस सरकार में एकमात्र अश्वेत सदस्य एलिजाबेथ मोरिनो ने ट्वीट किया कि

मैं डेनियल ओबोनो के विचारों से सहमति नहीं रखती लेकिन आज मैं उन्हें अपना पूरा समर्थन देती हूं.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *